Contact Us - 0532-246-5524,25 | 9335140296
Email - ssgcpl@gmail.com
|
|

Post at: Sep 09 2021

प्रधानमंत्री गतिशक्ति राष्ट्रीय मास्टर प्‍लान

वर्तमान परिप्रेक्ष्य

  • 15 अगस्त, 2021 (75वें स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर) को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लाल किले की प्राचीर से ‘प्रधानमंत्री गतिशक्ति राष्ट्रीय मास्टर प्‍लान’ की घोषणा की।
  • बुनियादी ढांचे के समग्र विकास के लिए इस योजना हेतु 100 लाख करोड़ रुपये का वित्तीय आवंटन किया जाएगा।
  • इस योजना का अनावरण सितंबर, 2021 में किया जाएगा।

आवश्यकता

  • उच्‍च कीमत एवं लंबी आपूर्ति श्रृंखला के कारण भारतीय उत्पाद वैश्विक बाजार में प्रतिस्पर्धा नहीं कर पाते।
  • वर्तमान में यह लागत भारत के कुल सकल घरेलू उत्पाद (GDP) का 14 प्रतिशत है, जो वैश्विक स्तर (8 प्रतिशत) से बहुत अधिक है।

फोकस क्षेत्र

मुख्य बिंदु 

  • ‘गतिशक्ति राष्ट्रीय मास्टर प्‍लान’ युवाओं के लिए रोजगार के नए अवसर सृजित करेगा।
  • यह मास्टर प्‍लान देश में अवसंरचना की नींव मजबूत करेगा।
  • इस योजना के तहत भविष्य में आर्थिक गलियारे भी विकसित किए जाएंगे।
  • इस योजना से भारत के विनिर्माण क्षेत्र को बढ़ावा मिलेगा, जिससे ‘मेक इन इंडिया’ योजना को गति मिलेगी।
  • गतिशक्ति राष्ट्रीय मास्टर प्‍लान’ से छोटे लघु और कुटीर उद्योगों को विशेष रूप से प्रोत्साहन मिलेगा।
  • इस प्‍लान के अंतर्गत 75 हफ्‍तों में 75 वंदे भारत ट्रेनों के संचालन के माध्यम से भारत के एक कोने से दूसरे कोने को जोड़ा जाएगा।
  • मौजूदा परिवहन संसाधनों में समन्वय का अभाव है, इस योजना के माध्यम से इस कमी को दूर किया जाएगा।

गतिशक्ति मास्टर प्‍लान के अंतर्गत चिह्नित औद्योगिक क्षेत्र

  • इसके अंतर्गत 1200 से अधिक औद्योगिक समूहों को मल्टी मॉडल कनेक्टिविटी (बहु प्रारूप संबद्धता) प्रदान की जाएगी।
  • यह प्‍लान पहले से संचालित योजनाओं जैसे भारतमाला, सागरमाला, उड़ान आदि को भी अपनी परिधि में शामिल करेगा।
  • रेलवे नेटवर्क का विस्तार, अंतरराष्ट्रीय जलमार्ग एवं भारत नेट योजना को भी इस योजना के अंतर्गत शामिल किया गया है।
  • इस योजना का संचालन वाणिज्य मंत्रालय के रसद विभाग द्वारा किया जाएगा।

 


Comments
List view
Grid view

Current News List