Contact Us - 0532-246-5524,25 | 9335140296
Email - ssgcpl@gmail.com
|
|

Post at: Aug 31 2021

स्मॉग टॉवर

वर्तमान परिप्रेक्ष्य

  • अगस्त, 2021 को देश के पहले स्मॉग टावर का उद्‍घाटन किया गया।
  • दिल्‍ली स्थित इस स्मॉग टॉवर का उद्‍घाटन मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल द्वारा किया गया।
  • इसकी स्थापना पायलट परियोजना के तहत की गई है।
  • इसकी सफलता के पश्चात शहर के अन्य इलाकों में भी इसकी स्थापना की जाएगी।

पृष्ठभूमि

  • वर्ष 2019 में उच्‍च्‍तम न्यायालय ने ‘केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड’ और दिल्‍ली सरकार को वायु प्रदूषण से निजात हेतु योजना बनाने का निर्देश दिया था।
  • अक्टूबर, 2020 में दिल्‍ली कैबिनेट ने स्मॉग टॉवर परियोजना को मंजूरी प्रदान की थी।
  • पूर्वी दिल्‍ली के आनंद विहार में दूसरे स्मॉग टॉवर को स्थापित करने हेतु कार्य प्रगति पर है। 
  • एक स्विस समूह द्वारा मार्च, 2020 में जारी रिपोर्ट के अनुसार, दिल्‍ली लगातार तीसरे बार, वर्ष 2020 में विश्व का सबसे प्रदूषित राजधानी शहर था।
    • रिपोर्ट में पार्टिकुलेट मैटर के स्तर के संदर्भ में मापी गई वायु गुणवत्ता के आधार पर शहरों की रैंकिंग की गई थी।
    • पार्टिकुलेट मैटर (PM) 2.5 मानव अंगों में प्रवेश करने और स्थायी रूप से नुकसान पहुंचाने में सक्षम होते हैं।

स्मॉग टॉवर एवं कार्यप्रणाली

  • स्मॉग टाॅवर को बड़े पैमाने पर एयर प्यूरिफायर के रूप में काम करने के लिए तैयार किया गया है।
  • इनमें एयर फिल्टर की कई परतें होती हैं, जो प्रदूषित हवा को साफ करते हैं।
  • नई दिल्‍ली स्थित स्मॉग टाॅवर ‘डाउनड्रिफ्‍ट एयर क्‍लीनिंग सिस्टम का उपयोग करता है।
  • जिसमें प्रदूषित हवा को लगभग 24 मीटर की ऊँचाई से प्राप्त किया जाता है।
    • यह टॉवर की ऊंचाई 24 मीटर है।
    • िफल्टर की गई हवा को टॉवर के निचले (जमीन से लगभग 10 मी. ऊंचाई) भाग से छोड़ा जाएगा।
  • देश का यह पहला स्मॉग टाॅवर एक हजार घन मीटर हवा प्रति सेकंड साफ करके बाहर छोड़ेगा।
  • यह एक किलोमीटर के दायरे के अंदर की हवा को साफ करने में सक्षम होगा।

निर्माण व निगरानी 

  • इस टॉवर को टाटा प्रोजेक्टस लिमिटेड (TPL) ने आईआईटी,बॉम्बे और आईआईटी, दिल्‍ली के तकनीकी सहयोग से बनाया है।
  • टॉवर निर्माण के संबंध में तकनीक को हमने अमेरिका से आयात किया है।
  • स्मॉग टॉवर की निगरानी पर्यवेक्षी नियंत्रण और डेटा अधिग्रहण के जरिए की जाएगी।
  • स्मॉग टावर्स के वैश्विक उदाहरण
  • वर्ष 2015 में नीदरलैंड्स के रॉटरडैम में इस प्रकार का स्मॉग टॉवर विकसित किया गया था।
  • चीन एवं दक्षिण कोरिया के शहर भी स्मॉग टाॅवरों से संबंधित प्रयोग कर रहे हैं।
  • चीन में विश्व का सबसे बड़ा स्मॉग टॉवर मौजूद है।

संकलन-आदित्य भारद्वाज

 


Comments
List view
Grid view

Current News List