Contact Us - 0532-246-5524,25 | 9335140296
Email - ssgcpl@gmail.com
|
|

Post at: Aug 31 2021

हरित सोहरा वनीकरण अभियान

वर्तमान परिप्रेक्ष्य 

  • 25 जुलाई, 2021 को केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने चेरापूंजी (सोहरा), मेघालय में वृक्षारोपण तथा वनीकरण को प्रेरित, ‘हरित सोहरा वनीकरण’ अभियान का शुभारंभ किया।
  • यह वृक्षारोपण कार्यक्रम मेघालय सरकार तथा असम राइफल्‍स के संयुक्त प्रयास द्वारा संचालित किया जाएगा।

उद्देश्य

  • ‘सदाबहार पूर्वोत्तर’ की संकल्‍पना को लक्षित तथा इको-टूरिज्‍म को बढ़ावा देना। 
  • अंधाधुंध कटाई से प्रभावित चेरापूंजी (सोहरा) को पारिस्थितिकीय रूप से पुन: हरा-भरा बनाना है।

महत्‍वपूर्ण तथ्य

क्षेत्र
हरित सोहरा वनीकरण कार्यक्रम के अंतर्गत-

  • चेरापूंजी के पूरे क्षेत्र को असम राइफल्‍स द्वारा गोद (Adopt)  लिया गया है। इस वनीकरण अभियान की कार्ययोजना असम राइफल्‍स ने ही बनाई है।
  • कार्ययोजना के अंतर्गत 80 प्रतिशत भूमि पर परंपरागत और लंबी आयु वाले वृक्षों की पौध लगाई जाएगी तथा बाकी 20 प्रतिशत पर पशु-चारण सजावटी वृक्ष तथा नर्सरी लगाने का कार्य किया जाएगा।
  • अभियान के तहत ‘मल्‍टी लेवल फार्मिंग’ तकनीक का इस्तेमाल किया जाएगा। इस तकनीक से जंगल 30 गुना तेजी से बढ़ सकते हैं। 
  • 3 वर्ष के पश्चात इन वृक्षों के देख-रेख की आवश्यकता नहीं होगी।

महत्‍व

  • परोक्त प्रयास से विखंडित तथा निर्वनीकृत चेरापूंजी का पारिस्थितिकीय तंत्र पुन: अपना प्राकृतिक रूप प्राप्‍त कर सकेगा तथा इको-टूरिज्‍म को प्रोत्‍साहित किया जा सकेगा।
  • इससे मेघालय में इको टूरिज्‍म को बढ़ावा मिलेगा, जो मेघालय के पर्यटन उद्योग को भी मजबूती प्रदान करेगा।

प्रवेश तिवारी


Comments
List view
Grid view

Current News List