Contact Us - 0532-246-5524,25 | 9335140296
Email - ssgcpl@gmail.com
|
|

Post at: Aug 24 2021

नेटवेस्ट अवाॅर्ड, 2021

वर्तमान परिप्रेक्ष्य

  • 28 जुलाई, 2021 को मध्य प्रदेश के सतपुड़ा बाघ अभयारण्य (Satpura Tiger Resume : STR) को अर्थ गार्जियन श्रेणी (Earth Guardian Category) में नेटवेस्ट ग्रुप अर्थ हीरोज (Group Earth Heroes) पुरस्कार मिला।
  • एसटीआर को यह पुरस्कार उसके सर्वश्रेष्ठ प्रबंधन के लिए प्रदान किया गया।
  • l मई, 2021 में एसटीआर (STR) को विश्व धरोहरों की संभावित सूची में भी शामिल किया गया है।

सतपुड़ा बाद्य अभयारण्य

सतपुड़ा

  • यह भारत के दक्‍कन जैव भौगोलिक क्षेत्र का भाग है।
  • वर्ष 1999 में इसे मध्य प्रदेश के प्रथम अभयारण्य के रूप में स्थापित हुआ था।
  • वर्ष 2000 में इसे राष्ट्रीय उद्यान का दर्जा दिया गया।
  • वर्ष 2007 में इसे बाघ अभयारण्य के रूप में स्थापित किया गया। यह नर्मदा नदी के दक्षिण में स्थित है।
  • देश में बाघों की संख्या का 17 प्रतिशत और बाघ आवास का 12 प्रतिशत क्षेत्र सतपुड़ा में ही आता है।
  • सतपुड़ा राष्ट्रीय उद्यान बाघों की उपस्थिति एवं उनके प्रजनन स्थल के रूप में जाना जाता है।
  • सतपुड़ा बाघ अभयारण्य स्तनधारियों की 52 सरीसृपों की 31 और पक्षियों की 300 प्रजातियों का आवास है।
  • यहां पर पक्षियों की प्रजातियाें में मालाबार व्हिसलिंग प्रश, मालाबर पाइड हॉर्नबिल और मध्य प्रदेश का राज्‍य पक्षी शाही बुलबुल/दूधराज आदि शामिल हैं।
  • इसके साथ ही कई प्रवासी पक्षी जैसे इंडियन स्किमर, बार-हेडेड गीज आदि शामिल हैं।

  • इन प्रजातियों में 14 लुप्‍तप्राय हैं।

  • यहां पाई जाने वाली प्रमुख जंतु प्रजातियों में ब्लैक बक, तेंदुआ, ढोल, भारतीय गौर, मालाबार विशालकाय गिलहरी शामिल हैं।

  • सतपुड़ा में हिमालयी क्षेत्रों में पाई जाने वाली 26 और नीलगिरी के जंगलों में पाई जाने वाली 42 वनस्पति प्रजातियां उपलब्ध हैं।
  • इस कारण पश्चिमी घाट की भांति इसे उत्तरी घाट के रूप में भी जाना जाता है।
  • इस अभयारण्य की पेंच नेशनल पार्क के साथ कॉरिडोर कनेक्‍टिविटी है।
  • यहां ऐतिहासिक एवं सांस्कृतिक दृष्टि से महत्‍वपूर्ण भीमबेटका की गुफाएं हैं। यहां पर मध्य पाषाणकालीन सैकड़ों पाषाण चित्रकलाएं हैं, जो सतपुड़ा एवं विंध्यन पर्वत श्रृंखला का भाग हैं।

सं. आदित्‍य भारद्वाज


Comments
List view
Grid view

Current News List