Contact Us - 0532-246-5524,25 | 9335140296
Email - ssgcpl@gmail.com
|
|

Post at: Jul 29 2021

चीन : मलेरिया-मुक्त

वर्तमान परिप्रेक्ष्य

  • जून, 2021 को विश्व स्वास्थ्य संगठन (World Health Organisation: WHO) ने चीन काे ‘‘मलेरिया-मुक्त’’ घोषित किया।
  • चीन 1940 के दशक में प्रतिवर्ष 30 मिलियन मलेरिया के मामलों से 2017 में शून्य तक पहुंच गया।
  • पिछले तीन दशकों में विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) से मलेरिया-मुक्त-प्रमाण-पत्र पाने वाला चीन, पश्चिमी प्रशांत क्षेत्र का पहला देश है।
  • पश्चिमी प्रशांत क्षेत्र में जिन देशों ने यह प्रमाण-पत्र हासिल किया है उनमें ऑस्ट्रेलिया (1981), सिंगापुर (1982) और ब्रुनेई (1987) शामिल हैं।

मलेरिया-मुक्त : प्रमाणन प्रक्रिया

  • विश्व स्वास्थ्य संगठन का मलेरिया उन्मूलन प्रमाण-पत्र देश की मलेरिया-मुक्त स्थिति की आधिकारिक मान्यता है।
  • अगर किसी देश में लगातार तीन वर्षों तक मच्छर जनित बीमारियों का प्रक्रोप नहीं हुआ है, तो ऐसे देश विश्व स्वास्थ्य संगठन में मलेरिया से मुक्ति के प्रमाण-पत्र के लिए आवेदन कर सकते हैं।
  • संबंधित देश को मलेरिया प्रसार को पुन: रोकने की क्षमता भी प्रदर्शित करनी चाहिए।

मलेरिया

  • मलेरिया परजीवी (प्‍लाज्मोडियम िववैक्स, प्‍लाज्‍मोडियम फाल्‍सीपेरम, प्‍लाज्मोडियम और प्‍लाज्मोडियम ओवले ) के कारण होने वाली एक जानलेवा बीमारी है।
  • यह संक्रमित मादा एनॉिफलीज मच्‍छरों के काटने से फैलती है।
  • मलेरिया में यकृत, प्‍लीहा इत्यादि संक्रमित होते हैं।
  • एनॉिफलीज मच्‍छर जब संक्रमित व्यक्ति का खून चूसती है तथा पुन: जब दूसरे व्यक्ति को काटती है, तो यह परजीवी एक व्यक्ति के रक्त परिसंचरण तंत्र से दूसरे व्यक्ति के रक्त परिसंचरण तंत्र में प्रवाहित हो जाता है।

उपचार

  • मलेरिया के उपचार हेतु क्‍लोरोक्‍विन, प्राइमाक्‍विन इत्यादि औषधियों को लेना चाहिए।
  • गैंबूसिया व गप्‍पी (Guppy) मछली, मच्छर के लार्वा को खाती है। अत: मच्‍छरों के जैविक नियंत्रण हेतु इनका उपयोग किया जाता है।

मलेरिया : चीन की रणनीति

  • 1-3-7 रणनीति

  • 523 प्रोजेक्ट :
  • वर्ष 1967 में चीनी सरकार ने इस परियोजना का प्रारंभ किया।
  • इसका उद्देश्य मलेरिया के लिए नए उपचार खोजने हेतु राष्ट्रव्यापी शोध कार्यक्रम चलाना था।
  • उपर्युक्त कार्यक्रम के तहत 1970 के दशक में आर्टीमिसिनिन (Artemisinin) नामक मलेरिया रोधी दवा की खोज की गई।
  • यह‘आर्टीमिसिनिन-आधारित संयोजन उपचारों’ (Artemisinin Based Combination Therapies : ACTs) [Artemether + Lumefantrine] का मुख्य यौगिक है, जो आज भी उपलब्ध सबसे प्रभावी मलेरिया रोधी दवाओं में से एक है।
  • विश्व स्वास्थ्य संगठन की सलाह से पूर्व 1980 के दशक में चीन में मलेरिया को रोकने हेतु मच्‍छरदानी का उपयोग शुरू हो गया था।
  • 1990 के दशक में मलेरिया से होने वाली मौत में 95 प्रतिशत की कमी आ गई।
  • वर्ष 2020 में लगातार 4 वर्षों तक शून्य मलेरिया रिपोर्टिंग के उपरांत चीन ने WHO में मलेरिया उन्मूलन प्रपत्र के लिए आवेदन किया।

वैश्विक स्थिति

  • चीन सहित विश्व स्तर पर 40 देशों और क्षेत्रों को डब्ल्‍यूएचओ से मलेरिया-मुक्त प्रमाण-पत्र प्राप्त हुआ है।
  • हाल ही में अलसेल्वाडोर (2021) एवं अर्जेंटीना (2019) और अल्‍जीरिया (2019) को मलेरिया-मुक्त घोषित किया गया था
  • वैश्विक मलेरिया रिपोर्ट, 2019 के अनुसार, वर्ष 2018 में वैश्विक स्तर पर मच्‍छर जनित बीमारी से 4,05,000 लोगों की मृत्यु हुई।
  • अधिकांश मामले अफ्रीका में दर्ज किए गए।
  • दक्षिण-पूर्व एशिया में मालदीव (2015) के बाद श्रीलंका (2016) दूसरा देश है, जिसे मलेरिया-मुक्त किया गया ।
  • 25 अप्रैल, को प्रतिवर्ष विश्व मलेरिया दिवस मनाया जाता है।
  • वर्ष 2021 का विषय (Theme) ‘शून्य मलेरिया लक्ष्य तक पहुंचना’ (Reaching the zero Malaria target)

भारत में मलेरिया को रोकने हेतु प्रयास

  • विश्व मलेरिया रिपोर्ट, 2019 के अनुसार, भारत विश्व की कुल मलेरिया मामलों के 3 प्रतिशत का वाहक है।
  • परंतु वर्ष 2017 के मुकाबले 2018 में मलेरिया के मामलों में 28 प्रतिशत की कमी आई है।
  • वर्ष 2016 में स्वास्थ्य मंत्रालय ने राष्ट्रीय मलेरिया उन्मूलन रूपरेखा (2016-2030) प्रस्तुत किया था।
  • वर्ष 2030 तक पूरे देश को मलेरिया-मुक्त करने का लक्ष्य।
  • वर्ष 2019 में चार राज्यों (मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, झारखंड और पश्चिम बंगाल) में ‘‘हाई बर्डन टू हाई इंपैक्‍ट’’ (HBHI) पहल का कार्यान्‍वयन शुरू किया गया था।
  • भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (Indian Council of Medical Research:ICMR) ने मलेरिया एलिमिनेशन रिसर्च अलायंस इंडिया (Mera-India) की स्थापना की।
  • भारत में मलेरिया मामलों की संख्या लगभग 20 मिलियन (वर्ष 2000) से गिरकर 5.6 मिलियन (2019) हो गई है।

संकलन-आदित्य भारद्वाज


Comments
List view
Grid view

Current News List