Contact Us - 9792276999 | 9838932888
Timing : 12:00 Noon to 20:00 PM (Mon to Fri)
Email - ssgcpl@gmail.com
|
|

Post at: Sep 09 2022

भारत का पहला कृषि डाटा एक्सचेंज

वर्तमान परिप्रेक्ष्य

  • 5 सितंबर‚ 2022 को तेलंगाना सरकार एवं भारतीय विज्ञान संस्थान (Indian Institute of Science : IISc), बंगलुरू ने संयुक्त रूप से भारत का पहला ’कृषि डाटा एक्सचेंज’ (Agriculture Data Exchange : ADEx) बनाने के लिए एक समझौते पर हस्ताक्षर करने की घोषणा की। 
  • ADEx को इंडिया अर्बन डाटा एक्सचेंज (India Urban Data Exchange : IUDEx) के आधार पर बनाया जाएगा‚ जो लोकहित में डाटा के उपयोग में अग्रणी है। 
  • ध्यातव्य है‚ कि IUDEx को भी IISc में आवास और शहरी मामलों के मंत्रालय (MoHUA) के साथ साझेदारी में बनाया गया था।
  • तेलंगाना सरकार के साथ साझेदारी‚ कृषि क्षेत्र में इन्हीं अवधारणाओं को लाएगी‚ जिससे किसानों के लिए अधिक ऋण विकल्प‚ बेहतर बीमा उत्पाद‚ बेहतर बीज ट्रेकिंग‚ अधिक लक्षित कृषि सलाह आदि से लेकर कई नई सेवाएं प्राप्त हो सकेंगी।

महत्वपूर्ण बिंदु

  • ADEx को वर्ष 2023 की शुरुआत में चुनिंदा भागीदारों एवं उपयोग के मामलों के साथ पायलट आधार पर लागू किया जाएगा।
  • साथ ही उसी वर्ष इसके परिणाम को ध्यान में रखते हुए राज्य के अन्य क्षेत्र में इसे लागू किया जाएगा।
  • सार्वजनिक और निजी दोनों क्षेत्रों के डाटा ADEx के माध्यम से उपलब्ध कराए जाएंगे और इन नई किसान सेवाओं के निर्माण के लिए विभन्न प्रकार के स्टार्टअप और अधिक स्थापित कंपनियों को प्रोत्साहित किया जाएगा। 
  • यह भी उम्मीद की जाती है‚ कि भविष्य में ADEx के डाटा को अन्य राज्यों में उपलब्ध कराया जाएगा और व्यापक रूप से पूरे देश में स्थापित किया जाएगा।

आईयूडीइएक्स (IUDEx) के बारे में

  • IUDEx कार्यक्रम आवास और शहरी मामलों के मंत्रालय (MoHUA) के भीतर भारत के स्मार्ट सिटी मिशन का समर्थन करता है।
  • यह भारतीय शहरों के भीतर प्रौद्योगिकी और नवाचार की पूरी क्षमता हासिल करने के लिए डाटा के उपयोग की सुविधा प्रदान करता है।
  • यह भारतीय विज्ञान संस्थान‚ बंगलुरू में सोसाइटी फॉर इनोवेशन एण्ड डेवलपमेंट के भीतर एक बहु-विषयक कार्यक्रम के रूप में स्थापित किया गया है।
  • IUDEx कार्यक्रम जनता की भलाई के लिए डाटा के उपयोग से संबंधित तकनीकी और गैर-तकनीकी मुद्दों को संबोधित करता है।
  • कार्यक्रम द्वारा विकसित ’ओपन-सोर्स प्लेटफॉर्म’ विभिन्न नागरिक निकायों‚ नगरपालिका विभागों‚ एप्लीकेशन डेवलपर्स और प्रासंगिक डाटा उपभोक्ताओं के बीच डाटा एक्सचेंज की सुविधा के द्वारा शहर प्रशासन में उच्च परिचालन दक्षता को सक्षम बनाता है।

संकलन - मनीष प्रियदर्शी


Comments
List view
Grid view

Current News List