Contact Us - 9792276999 | 9838932888
Timing : 12:00 Noon to 20:00 PM (Mon to Fri)
Email - ssgcpl@gmail.com
|
|

Post at: Aug 24 2022

वैश्विक फिण्डेक्स डाटाबेस‚ 2021

वर्तमान परिप्रेक्ष्य

  • 29 जून‚ 2022 को विश्व बैंक द्वारा वैश्विक फिण्डेक्स डाटाबेस‚ 2021 जारी किया गया। 
  • इसे विश्व बैंक ने वित्तीय समावेशन‚ डिजीटल पेमेंट एवं कोविड-19 के युग में लचीलापन (Financial Inclusion Digital Payments and Resilience in the Age of COVID-19) नामक शीर्षक से जारी किया है।
  • वैश्विक फिण्डेक्स डाटाबेस वित्तीय समावेशन को बढ़ावा देने के वैश्विक प्रयासों का मुख्य आधार बन गया है।
  • वैश्विक फिण्डेक्स‚ 2021 डाटाबेस को विश्व बैंक के विकास अर्थशास्त्र शाखा में अनुसंधान समूह ’फिनान्स एण्ड प्राइवेट सेक्टर डेवलपमेंट’ द्वारा तैयार किया गया है।
  • वैश्विक फिण्डेक्स डाटाबेस का प्रयोग संयुक्त राष्ट्र के सतत विकास लक्ष्य (SDG) के आकलन के लिए भी प्रयोग किया जाता है।
  • इसका प्रथम प्रकाशन वर्ष 2011 में हुआ था। इसके बाद क्रमश:  वर्ष 2014 एवं 2017 में हुआ।
  • वर्ष 2021 के अंक में 123 अर्थव्यवस्थाओं को शामिल किया गया है।

 

डाटाबेस के महत्वपूर्ण तथ्य

  • वर्ष 2021 में विश्वभर में लगभग 76 प्रतिशत वयस्क लोगों का किसी - न - किसी बैंक अथवा औपचारिक वित्तीय संस्थाओं में खाता खुला हुआ है।
  • ध्यातव्य है‚ कि वर्ष 2011 में वैश्विक स्तर पर 51 प्रतिशत वयस्कों का बैंक खाता मौजूद था‚ जिसमें लगभग 50 प्रतिशत की वृद्धि हो गई है।
  • खाता धारण में लैंगिक अंतराल में जहां 9 प्रतिशत का अंतर था‚ वहीं यह घटकर 6 प्रतिशत तक आ गया है।
  • वहीं‚ विकासशील देशों में लगभग 71 प्रतिशत वयस्कों के पास बैंक खाता मौजूद है।
  • विदित हो कि विकासशील देशों में वर्ष 2017 में 63 प्रतिशत वयस्कों के पास बैंक खाता मौजूद था।
  • विकासशील देशों में बैंक खातों में हुई वृद्धि का मुख्य कारण चीन तथा भारत हैं।
  • विकसित देशों में वयस्कों द्वारा वर्ष 2014 में जहां 35 प्रतिशत डिजिटल पेमेंट किया जाता था‚ वहीं वर्ष 2021 में यह बढ़कर 57 प्रतिशत हो गया है।
  • जबकि‚ उच्च आय वाले देशों में डिजिटल पेमेंट लगभग सार्वभौमिक (95%) हो चुका है।
  • वहीं‚ विकासशील देशों में 83 प्रतिशत वयस्कों द्वारा डिजिटल पेमेंट का प्रयोग किया जाता है।
  • विकासशील अर्थव्यवस्था में लगभग आधे वयस्क अप्रत्याशित खर्च का सामना करने पर 30 दिनों के भीतर अतिरिक्त धन प्राप्त कर सकते हैं।
  • विकासशील अर्थव्यवस्था में 30 प्रतिशत वयस्कों के लिए प्राथमिक धन का स्रोत या तो उनका परिवार या उनके मित्र हैं।
  • विकासशील अर्थव्यवस्था में 36 प्रतिशत वयस्कों के लिए स्वास्थ्य पर खर्च उनकी सबसे बड़ी समस्या है।
  • विकासशील अर्थव्यवस्था में बिल का भुगतान 40 प्रतिशत वयस्क प्रत्यक्ष रूप से अपने बैंक खाते से करते हैं।
  • जबकि‚ चीन में लगभग 80 प्रतिशत वयस्क बिल का भुगतान डिजिटल तौर पर अपने खाते से करते हैं।

 

भारत के संदर्भ में तथ्य

  • भारत में वर्ष 2011 में जहां 35 प्रतिशत वयस्कों के पास बैंक खाता था‚ वहीं वर्ष 2021 में यह बढ़कर 78 प्रतिशत वयस्कों तक पहुंच गया है।
  • विश्व में लगभग 1 अरब वयस्कों के पास बैंक खाता है‚ पर वे डिजिटल भुगतान नहीं करते‚ जिनमें 540 मिलियन भारतीय हैं।
  • विकासशील अर्थव्यस्थाओं में 16 बिलियन वयस्क व्यापारियों को भुगतान नकद में करते हैं‚ जिनमें 670 मिलियन भारतीय हैं।
  • भारत में लगभग 80 मिलियन वयस्कों ने महामारी के दौर में पहली बार डिजिटल भुगतान का प्रयोग किया।

संकलन - मनीष प्रियदर्शी


Comments
List view
Grid view

Current News List