Contact Us - 9792276999 | 9838932888
Timing : 12:00 Noon to 20:00 PM (Mon to Fri)
Email - ssgcpl@gmail.com
|
|

Post at: Aug 08 2022

भारत-मिस्र संयुक्त व्यापार परिषद की बैठक

वर्तमान परिप्रेक्ष्य

  • 25-26 जुलाई‚ 2022 को काहिरा (Cairo), मिस्र (Egypt) में भारत-मिस्र के बीच संयुक्त बैठकों का आयोजन किया गया। 
  • इस आयोजन में संयुक्त व्यापार समिति (Joint Trade Committee : JTC) का 5वां सत्र तथा संयुक्त व्यापार परिषद (Joint Business Council : JBC) की 5वीं बैठक संपन्न हुई।
  • जेटीसी (JTC) 3 वर्ष तथा जेबीसी (JBC) की बैठक 6 वर्ष के अंतराल पर हुई।

उद्देश्य

  • दोनों पक्षों के व्यापारिक समुदायों के बीच व्यापार और निवेश संबंधों को नवीनीकृत और मजबूत करने तथा उन्हें नई ऊंचाइयों पर ले जाने हेतु।

संयुक्त व्यापार समिति (JTC) सत्र

  • इसकी सह-अध्यक्षता भारत के वाणिज्य विभाग के संयुक्त सचिव डॉ. श्रीकर के. रेड्डी (Dr. Srikar K. Reddy) तथा मिस्र के वाणिज्यक सेवा के प्रमुख याह्या एल. वाथिक बेल्लाह (Yahya El Wathik Bellah) ने किया। 
  • इस सत्र में दोनों पक्षों द्वारा सहमत कार्यवृत्त (Agreed Minutes) पर हस्ताक्षर किए गए।
  • इसमें द्विपक्षीय व्यापार के साथ-साथ पारस्परिक रूप से लाभप्रद निवेश बढ़ाने हेतु ध्यान देने योग्य विभिन्न क्षेत्रों की पहचान की गई।
    • जिसमें खाद्य‚ कृषि एवं समुद्री उत्पाद‚ ऊर्जा विशेष रूप से हरित हाइड्रोजन और हरित अमोनिया सहित नवीकरणीय ऊर्जा‚ स्वास्थ्य एवं फार्मास्यूटिकल्स (Pharmaceuticals), रसायन एवं पेट्रो केमिकल्स‚ इंजीनियरिंग सामान‚ विनिर्माण‚ पर्यटन‚ सूचना प्रौद्योगिकी आदि शामिल हैं।
  • दोनों पक्षों में 5 वर्षों के भीतर 12 बिलियन अमेरिकी डॉलर वार्षिक द्विपक्षीय व्यापार प्राप्त करने का लक्ष्य निर्धारित किया है।
    • ज्ञातव्य है‚ कि वित्तीय वर्ष 2021-22 में दोनों देशों का द्विपक्षीय व्यापार 7.26 बिलियन अमेरिकी डॉलर का रहा है।
    • यह वित्तीय वर्ष 2020-21 की तुलना में लगभग 75 प्रतिशत अधिक था।
    • साथ ही 3.15 बिलियन अमेरिकी डॉलर के मौजूदा निवेश के साथ मिस्र इस क्षेत्र में भारत के लिए सबसे बड़े निवेश स्थलों में से एक है।
  • इसमें दोनों पक्षों ने व्यापार में बाधा डालने वाले सभी मुद्दों के शीघ्र समाधान हेतु वार्ता करने‚ संस्थागत सहयोग को बढ़ाने तथा मिस्र के पक्ष में गैर-टैरिफ बाधाओं (Non Tariff Barriers : NTB) की समस्या समाधान हेतु शीघ्र तकनीकी प्रतिनिधिमण्डल को भारत की यात्रा पर भेजने की सहमति जताई।

संयुक्त व्यापार परिषद (JBC)

  • इसका आयोजन फेडरेशन ऑफ इण्डियन चैंबर्स ऑफ कॉमर्स एण्ड इण्डस्ट्री-फिक्की (Federation of Indian Chambers of Commerce Industry : FICCI) और मिस्र की वाणिज्यिक सेवाओं (Egyptian Commercial Services) द्वारा संयुक्त रूप से किया गया।
  • इसमें भारत के एक बड़े व्यापारिक प्रतिनिधिमण्डल ने भाग लिया।
  • इसमें बी2बी (Business to Business) वार्ता भारत के व्यापारिक प्रतिनिधिमण्डल तथा मिस्र के व्यापारिक प्रतिनिधिमण्डल एवं व्यापारिक घरानों के बीच किए जाने पर सहमति बनी।
  • इससे आर्थिक एवं व्यापारिक संबंधों को बढ़ाने में सहयोग मिलेगा।

निष्कर्ष—

भारत-मिस्र के मध्य संयुक्त बैठकों जेटीसी (JTC) एवं जेबीसी (JBC) से दोनों देशों के मध्य पारंपरिक रूप से मैत्रीपूर्ण संबंधों को आगे बढ़ाने में सहायता मिलेगी

संकलन - संतोष कुमार पाण्डेय


Comments
List view
Grid view

Current News List