Contact Us - 9792276999 | 9838932888
Timing : 12:00 Noon to 20:00 PM (Mon to Fri)
Email - ssgcpl@gmail.com
|
|

Post at: Jul 13 2022

साइबर और राष्ट्रीय सुरक्षा पर राष्ट्रीय सम्मेलन

वर्तमान परिप्रेक्ष्य

  • 20 जून, 2022 को गृह मंत्रालय ने नई दिल्‍ली स्थित विज्ञान भवन में साइबर और राष्ट्रीय सुरक्षा पर राष्ट्रीय सम्मेलन का आयोजन किया।
  • इससे पूर्व 8-17 जून, 2022 के बीच भारतीय साइबर अपराध समन्‍वय केंद्र (Indian Cyber Crime-Co-ordination Centre-I4C), गृह मंत्रालय और संस्कृति मंत्रालय के समन्‍वय से देश के विभिन्‍न 75 स्थानों पर साइबर स्वच्‍छता, साइबर अपराधों की रोकथाम, साइबर पर कार्यक्रम का आयोजन किया गया था।
  • यह आयोजन ‘आजादी का अमृत महोत्सव’ शीर्षक के अंतर्गत किया गया।

प्रमुख बिंदु

  • भारत सरकार डिजिटल क्रांति के युग में भारत को अग्रणी रूप से स्थापित करने के लिए भारत को ‘साइबर सुरक्षित इण्डिया’ बनाने के विजन पर कार्य कर रही है।
  • साइबर सुरक्षित इण्डिया के विजन में आज जन-जागरूकता सबसे महत्वपूर्ण है ; क्योंकि
  • जन-जागरूकता, जनहित और जनहित प्रौद्योगिकी की चुनौतियाें का समाधान खोजने का प्रयास अंतत: जन-कल्याण को ही सुनिश्चित करेगा।
  • साइबर सुरक्षा की दृष्टि से भारत संवेदनशील देश है ; क्योंकि-

  • पिछले दशक में भारत में साइबर धोखाधड़ी व साइबर अटैक के मामलों में तीव्र वृद्धि हुई है।
  • परिणामस्वरूप भारत में साइबर सुरक्षा अनिवार्य पहलू हो जाता है।

​​​​​​​

  • वर्ष 2020 में प्रतिदिन 136 साइबर अपराध के मामले दर्ज किए गए, प्रति एक लाख आबादी पर साइबर अपराधों की संख्या में भी चार वर्षों में 270 प्रतिशत की वृद्धि हुई है।
  • इसके अलावा, साइबर क्राइम रिपोर्टिंग पोर्टल (2019) तीन वर्ष पूर्व शुरू किया गया था। जिस पर विभिन्‍न प्रकार की 11 लाख से अधिक शिकायतें दर्ज की जा चुकी हैं।

 


Comments
List view
Grid view

Current News List