Contact Us - 9792276999 | 9838932888
Timing : 12:00 Noon to 20:00 PM (Mon to Fri)
Email - ssgcpl@gmail.com
|
|

Post at: Jul 02 2022

विश्व निवेश रिपोर्ट‚ 2022

विश्व निवेश रिपोर्ट : परिचय

  • अंकटाड (UNCTAD : United Nations Conference on Trade & Development) द्वारा वर्ष 1991 से ही प्रत्येक वर्ष ‘विश्व निवेश रिपोर्ट’ (World Investment Report) जारी की जा रही है।
  • विश्व निवेश प्रवृत्ति पर आधारित इस रिपोर्ट में वैश्विक एवं क्षेत्रीय स्तर पर प्रत्यक्ष विदेशी निवेश के अंतर्प्रवाह (Inflows) एवं बहिर्प्रवाह (Outflows) की प्रवृत्ति का विश्लेषण प्रस्तुत किया जाता है। 

वर्तमान परिप्रेक्ष्य

  • 9 जून‚ 2022 को अंकटाड (UNCTAD) द्वारा जारी ‘विश्व निवेश रिपोर्ट‚ 2022‘ के अनुसार‚ वैश्विक प्रत्यक्ष विदेशी निवेश प्रवाह (Global FDI Flows) कोविड-19 महामारी के कारण गंभीर रूप से प्रभावित हुआ है।
  • विश्व निवेश रिपोर्ट‚ 2022 का केंद्रीय विषय है - ‘अंतरराष्ट्रीय कर सुधार एवं सतत निवेश’ (International Tax Reforms And Sustainable Investment)।
    • इस रिपोर्ट में वर्ष 2021 के आंकड़ों के आधार पर निवेश प्रवाह का विश्लेषण किया गया है।
  • कोविड-19 महामारी के कारण वर्ष 2020 में वैश्विक प्रत्यक्ष विदेशी निवेश प्रवाह जहां 1 ट्रिलियन अमेरिकी डॉलर हो गया था, वहीं यह वर्ष 2021 में 64 प्रतिशत की वृद्धि के साथ 1.58 ट्रिलियन डॉलर हो गया।
  • इस वृद्धि का मुख्य कारण वैश्विक बाजार में विलय एवं अधिग्रहण में तीव्र वृद्धि, अंतरराष्ट्रीय परियोजनाओं में वृद्धि तथा महत्वपूर्ण अवसंरचना परियोजनाओं एवं प्रोत्साहन पैकेज।
  • रिपोर्ट में यह भी दर्शाया गया है, कि रूस-यूक्रेन युद्ध ने एक तरफ जहां कई देशों के लिए  3F (Food, Fuel and Finance)  संकट को जन्म दिया है, वहीं इससे वर्ष 2022 में वैश्विक विदेशी निवेश में गिरावट आने की संभावना है।
  • विकसित देशों की तुलना में विकासशील देशों में प्रत्यक्ष विदेशी निवेश कमजोर रहा है, फिर भी इसमें 30 प्रतिशत की वृद्धि देखने को मिली है। वहीं विकसित देशों में 134 प्रतिशत से अधिक तथा कम विकसित देशों (Least Developed Countries: LDC)  मंे यह वृद्धि 13 प्रतिशत से अधिक रही है।

वैश्विक न्यूनतम कर का प्रत्यक्ष विदेशी निवेश पर प्रभाव

  • अंतरराष्ट्रीय निवेश एवं निवेश नीति पर जी-20 एवं आर्थिक सहयोग एवं विकास संगठन (Organisation for Economic Co-operation and Development: OECD) द्वारा लागू की गई 15 प्रतिशत की वैश्विक न्यूनतम कर का महत्वपूर्ण प्रभाव पड़ा है।
  • रिपोर्ट के अनुसार, 15 प्रतिशत कर आरोपण से वैश्विक निवेश में 2 प्रतिशत तक की गिरावट होने की संभावना हैै।

प्रत्यक्ष विदेशी निवेश अंतर्प्रवाह (वैश्विक एवं विभिन्‍न अर्थव्यवस्थाएं), 2021

[नोट - कोष्ठक में दिए गए प्रतिशत आंकड़े वैश्विक निवेश में हिस्से (share) को‚ जबकि धनात्मक प्रतिशत आंकड़े विगत वर्ष की तुलना में FDI में होने वाली वृद्धि को प्रदर्शित कर रहे हैं]

  • ‘विश्व निवेश रिपोर्ट‚ 2022’ के अनुसार‚ वर्ष 2021 में भारत में 45 बिलियन अमेरिकी डॉलर का प्रत्यक्ष विदेशी निवेश अंतर्प्रवाह (FDI Inflows) आया‚ जो वर्ष 2020 के 64 बिलियन अमेरिकी डॉलर की तुलना में 29.69 प्रतिशत कम है।
  • प्रत्यक्ष विदेशी निवेश अंतर्प्रवाह के संदर्भ में वर्ष 2021 में भारत विश्व में सातवें स्थान पर है‚ जबकि वर्ष 2020 में यह 8वें स्थान पर था।

अंतर्प्रवाह (Inflows)

  • वर्ष 2021 में वैश्विक प्रत्यक्ष विदेशी निवेश अंतर्प्रवाह (Inflows) में 64 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गई है।
    • यह वर्ष 2020 के 962 बिलियन अमेरिकी डॉलर से बढ़कर वर्ष 2021 में 1582 बिलियन अमेरिकी डॉलर के स्तर पर आ गया।
  • वर्ष 2021 में विकासशील देशों में एफ.डी.आई. अंतर्प्रवाह में 30 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गई और यह वर्ष 2020 के 644 बिलियन अमेरिकी डॉलर के स्तर से बढ़कर वर्ष 2021 में 837 बिलियन डॉलर हो गया।
  • क्षेत्रीय स्तर पर विश्व में सर्वाधिक एफ.डी.आई. प्राप्त करने के संदर्भ में विकासशील अर्थव्यवस्थाएं (Developing Economies) शीर्ष पर रहीं‚ जबकि विकसित अर्थव्यवस्थाएं दूसरे स्थान पर रहा।

  • वर्ष 2021 में एफ.डी.आई. अंतर्प्रवाह की दृष्टि से शीर्ष तीन   देश क्रमश: यू.एस.ए.‚ चीन और हांगकांग रहे।

बहिर्प्रवाह (Outflows)

  • वर्ष 2021 में यू.एस.ए.‚ जर्मनी तथा जापान प्रत्यक्ष विदेशी निवेश बहिर्प्रवाह के संदर्भ में शीर्ष तीन देश रहे। 
  • दक्षिण एशिया में FDI बहिर्प्रवाह में मुख्य भारत मे 43 प्रतिशत की वृिद्ध हुई और यह बढ़कर 16 बिलियन डॉलर हो गया।

एशिया क्षेत्र में एफडीआई प्रवाह

  • वर्ष 2021 में‚ विकासशील एशिया में एफडीआई अंतर्प्रवाह में 19 प्रतिशत की वृद्धि हुई।
  • वैश्विक स्तर पर सर्वाधिक वृद्धि (171%) यूरोप में दर्ज की गई।
    • उल्‍लेखनीय है, कि रिपोर्ट के अनुसार‚ अन्य क्षेत्रों; जैसे अफ्रीका (113%)‚ लैटिन अमेरिका एवं कैरेबियन  (56%) एवं विकसित अर्थव्यवस्थाओं (134%) में एफडीआई अंतर्प्रवाह में वृद्धि दर्ज की गई है।
  • वैश्विक अंतर्प्रवाह में एशिया की हिस्सेदारी लगभग 39.12 प्रतिशत है।

ब्रिक्स (BRICS) देशों में FDI

  • वर्ष 2020 के मुकाबले वर्ष 2021 में ब्रिक्स देशों में FDI अंतर्प्रवाह में 101 बिलियन डॉलर की वृद्धि दर्ज की गई है।
  • वर्ष 2020 में जहां ब्रिक्स देशों को 254 बिलियन डॉलर FDI प्राप्त हुआ था‚ वहीं वर्ष 2021 में यह बढ़कर 355 बिलियन डॉलर हो गया है।

संकलन-मनीष प्रियदर्शी


 


 


 

 


 


 


Comments
List view
Grid view

Current News List