Contact Us - 9792276999 | 9838932888
Timing : 12:00 Noon to 20:00 PM (Mon to Fri)
Email - ssgcpl@gmail.com
|
|

Post at: Jun 24 2022

सियोल वन घोषणा

वर्तमान परिप्रेक्ष्य

  • 2-6 मई, 2022 को संपन्‍न 15वीं विश्व वानिकी कांग्रेस (World Forestry Congress)  में सियोल वन घोषणा (Seoul Forest Declaration) को अपनाया गया।
    • इस सम्मेलन में 164 देशों ने भागीदारी की ।
  • इससे पूर्व, संयुक्त राष्ट्र खाद्य और कृषि संगठन (FAO)  द्वारा सम्मेलन के प्रथम दिन अर्थात 2 मई, 2022 को विश्व के वन राज्य, 2022 (State of the world's Forests, 2022) रिपोर्ट  जारी की गई थी।

प्रमुख बिंदु

  • सम्मेलन में वर्ष 2022 के लिए थीम ‘‘वनों के साथ एक हरे, स्वस्थ और लचीले भविष्य का निर्माण’’ (Building a Green, Healthy and Resilient Future with Forests) को रखा गया है।
  • सियोल वन घोषणा में विश्व स्तर पर वन और परिदृश्य बहाली (Forest and Landscape Restoration) में निवेश को वर्ष 2030 तक तीन गुना करने की आवश्यकता है।
  • यह आग्रह करता है, कि वनों की जिम्मेदारी को-

  • घोषणा में इस बात पर प्रकाश डाला गया है, कि मनुष्य और वनों का स्वास्थ्य एकीकृत है, जहां वनों के क्षरण का मनुष्यों के स्वास्थ्य और कल्याण पर गंभीर नकारात्मक प्रभाव पड़ेगा।
  • एक वृत्ताकार जैव-अर्थव्यवस्था और जलवायु तटस्थता (Circular bioeconomy and climate neutrality)  की ओर बढ़ना होगा।
  • कांग्रेस के निष्कर्षों और उद्देश्यों को हाल ही में आयोजित होने वाले संयुक्त राष्ट्र कन्‍वेंशन टू कॉमेट डेजर्टिफिकेशन (UNCCD CoP 15) में प्रेषित किए जाएंगे।
    • साथ ही जैव विविधता सम्मेलन (सीबीडी) और जलवायु परिवर्तन पर संयुक्त राष्ट्र फ्रेमवर्क सम्मेलन (UNFCCC)  और अन्य महत्वपूर्ण मंचों पर भी संप्रेषित किया जाएगा।
  • वन आधारित समाधानों में छोटे जोतदारों, पारिवारिक किसानों, स्वदेशी लोगों, वन समुदायों, युवाओं और महिलाओं का दृष्टिकोण शामिल होना चाहिए।

कांग्रेस के आयोजन के दौरान नई साझेदारियों पर हस्ताक्षर:

  • एकीकृत जोखिम प्रबंधन तंत्र के साथ वनों के भविष्य का आश्वासन [Assuring the Future of Forets with Integrated Risk Managemet (AFFIRM), Mechanism]
  • वन पारिस्थितिकीय तंत्र की प्रचुरता को बनाए रखना पहल (Sustaining and Abundance of Forest Ecosystems:SAFE) ।
  • आरईडीडी (Reducing Emissions From Deforestation and forest degradation : REDD+) क्षमता निर्माण के लिए मंच,  REDD+ वन क्षेत्र में कार्ययोजना पर मार्गदर्शन करने के लिए जलवायु परिवर्तन पर संयुक्त राष्ट्र फ्रेमवर्क कन्‍वेंशन (UNFCCC) पार्टियों द्वारा बनाया गया एक तंत्र है। 
    • जो वनों की कटाई और वन क्षरण से उत्सर्जन को कम करता है।
  • साथ ही विकासशील देशों में वन कार्बन स्टॉक का संरक्षण और वृद्धि के लिए स्थायी प्रबंधन योजना पर कार्य करता है।

वन परिदृश्य बहाली (Forest Landscape Restoration)

  • यह वनों की कटाई और क्षरित वन परिदृश्यों में पारिस्थितिक  कार्यक्षमता को पुन: प्राप्त (Restoration) करने और मानव कल्याण को बढ़ाने की चल रही प्रक्रिया है ।
  • यह सिर्फ पेड़ लगाने से ज्यादा है-
  • यह वर्तमान और भविष्य की जरूरतों को पूरा करने और समय के साथ कई लाभ और भूमि उपयोग की पेशकश करने के लिए एक पूरे परिदृश्य को बहाल करने पर कार्य करता है।

विश्व वानिकी कांग्रेस (World Forestry Congress)

  • यह प्रत्येक 6 वर्षों पर आयोजित किया जाता है।
  • इस वर्ष का आयोजन दक्षिण कोरिया गणराज्य द्वारा आयोजित किया गया।
    • FAO के साथ सह-आयोजित, यह एशिया में आयोजित दूसरा कांग्रेस सम्मेलन था।
  • इससे पूर्व इण्डोनेशिया ने वर्ष 1978 में एशिया में पहली कांग्रेस की मेजबानी की।
  • ‘कांग्रेस’ प्रमुख चुनौतियों और वानिकी क्षेत्र के लिए आगे की राह पर समावेशी चर्चा के लिए एक मंच प्रदान करती रही है।

वनों की पुनर्बहाली के लिए भारत सरकार की प्रमुख पहल

  • राष्ट्रीय वनीकरण कार्यक्रम (वर्ष 2000)
  • हरित भारत के लिए राष्ट्रीय मिशन, 2014
    • यह जलवायु परिवर्तन पर राष्ट्रीय कार्ययोजना के तहत आठ मिशनों में से एक है।
  • प्रतिपूरक वनरोपण निधि प्रबंधन और योजना प्राधिकरण (CAMPA फण्ड), 2016 
  • मरुस्थलीकरण का मुकाबला करने के लिए राष्ट्रीय कार्यक्रम, 2001
  • वन अग्‍नि निवारक और प्रबंधन योजना।

संकलन-पंकज तिवारी


 


Comments
List view
Grid view

Current News List