Contact Us - 9792276999 | 9838932888
Timing : 12:00 Noon to 20:00 PM (Mon to Fri)
Email - ssgcpl@gmail.com
|
|

Post at: May 24 2022

विश्व प्रेस स्वतंत्रता सूचकांक, 2022

विश्व प्रेस स्वतंत्रता सूचकांक (World Press Freedom Index: WPFI)

  • यह सूचकांक पत्रकारों काे उपलब्ध स्वतंत्रता के स्तर के अनुसार, विश्व के 180 देशों और क्षेत्रों को रैंक प्रदान करता है।
  • गौरतलब है, कि इस सूचकांक को वर्ष 2002 से प्रतिवर्ष एक फ्रांसीसी एनजीओ (NGO) ‘रिपोर्टर्स विदाउट बाॅर्डर्स’ (RSF)  द्वारा प्रकाशित किया जाता है।
  • RSF का मुख्यालय फ्रांस के पेरिस में स्थित है।

वर्तमान परिप्रेक्ष्य

  • 3 मई, 2022 को इस सूचकांक के 20वें संस्करण को जारी किया गया।
  • ध्यातव्य है, कि 3 मई, 2022 को विश्व प्रेस स्वतंत्रता दिवस मनाया गया।
  • इस दिवस का विषय ‘‘ डिजिटल घेराबंदी के तहत पत्रकारिता’’ (Journalism Under Digital Siege) था।

निर्माण पद्धति

  • सूचकांक के निर्माण हेतु RSF द्वारा मीडिया पेशेवरों, वकीलों तथा समाजशास्त्रियों हेतु एक ऑनलाइन प्रश्नोत्तरी तैयार की जाती है।
  • सूचकांक के सद्य: संस्करण के संकलन हेतु RSF द्वारा एक नई प्रविधि (New Methodology) विकसित की गई है।
  •  प्रेस स्वतंत्रता की जटिलता को दर्शाने के लिए सूचकांक के संकलन में 5 नए संकेतक (New Indicators)  शामिल किए गए हैं।
  • इसके साथ ही प्रश्नोत्तरी में 5 नए संकेतकों से संबंधित प्रश्नों को शामिल किया जाता है।
  • 5 नए संकेतक निम्नलिखित हैं-

​​​​​​​1- राजनीतिक संदर्भ (Political Context)
2. विधिक ढांचा (Legal Framework)
3. आर्थिक संदर्भ (Economic Context)
4. सामाजिक-सांस्कृतिक संदर्भ (Sociocultural context)
5.सुरक्षा (Safety)

प्रेस स्वतंत्रता मानचित्र (Press Freedom Map)

  • सूचकांक में शामिल देशों व क्षेत्रों को 0-100 के बीच अंक प्रदान किए जाते हैं।
  • जिसमें, 100 सर्वश्रेष्ठ संभव स्कोर (प्रेस स्वतंत्रता का उच्‍चतम संभव स्तर) और 0 सबसे खराब प्रदर्शन व स्थिति को दर्शाता है।

वैश्विक परिणाम

  • सद्य: सूचकांक के अनुसार, कुल 180 देशों में से केवल 26 में पत्रकारिता हेतु अच्‍छी (Good) स्थिति दर्ज की गई है।
  • इसके साथ ही 27 में संतोषजनक, 69 में समस्याग्रस्त, 38 में कठिन एवं 20 में अति गंभीर स्थिति दर्ज की गई है।
  • WPFI, 2022  के अनुसार, शीर्ष तीन स्थान नॉर्डिक देशों यथा-नॉर्वे (1st), डेनमार्क (2nd) तथा स्वीडन (3rd) को प्राप्त हुआ है।
  • जबकि, उत्तर कोरिया को 13.92 स्कोर के साथ 180वां स्थान प्राप्त हुआ है।

​​​​​​​शीर्ष रैंकिंग वाले 5 देश

सबसे खराब प्रदर्शन करने वाले पांच देश

भारत की स्थिति

  • सद्य: सूचकांक में भारत ने 41.00 स्कोर के साथ 150वां स्थान हासिल किया है।
  • विदित हो, कि पिछले वर्ष के सूचकांक मंे भारत ने 46.56 स्कोर के साथ 142वां स्थान हासिल किया था।
  • गौरतलब है, कि भारत वर्ष 2016 के सूचकांक में 133वें स्थान पर था, इसके बाद से उसकी रैंकिंग में लगातार गिरावट दर्ज की गई है।
  • नवीनतम सूचकांक में शामिल 5 नए संकेतकों में भारत की स्थिति निम्नलिखित है-

WFPI, 2022: भारत के पड़ोसी देशों का प्रदर्शन

ब्रिक्स देशों की स्थिति

संकलन-आदित्य भारद्वाज

 


Comments
List view
Grid view

Current News List