Contact Us - 9792276999 | 9838932888
Timing : 12:00 Noon to 20:00 PM (Mon to Fri)
Email - ssgcpl@gmail.com
|
|

Post at: Apr 23 2022

भारत का चीनी निर्यात

वर्तमान परिप्रेक्ष्य

  • अप्रैल, 2022 में जारी आंकड़ों के अनुसार, भारत के चीनी निर्यात (Export) में वित्त वर्ष 2013-14 की तुलना में 291 प्रतिशत की बढ़ोत्तरी दर्ज की गई है।
  • इन आंकड़ों को वाणिज्य खुफिया और संाख्यिकी महानिदेशालय (Directorate General of Commercial Intelligence and Statistics: DGCI&S) द्वारा जारी किया गया।

विवरण

  • गौरतलब है, कि वित्त वर्ष 2013-14 में 1,177 मिलियन डॉलर का चीनी निर्यात किया गया था।
  • जो वित्त वर्ष 2021-22 के दौरान 4600 मिलियन डॉलर तक पहुंच गया है।
  • इसके साथ ही यह पिछले वित्त वर्ष की तुलना में 65 प्रतिशत की वृद्धि को दर्शाता है।
  • DGCI&S के अनुसार, भारत ने विश्वभर के 121 देशों को चीनी का निर्यात किया है।
  • भारत ने वित्त वर्ष 2019-20 के दौरान 1965 मिलियन डॉलर चीनी का निर्यात किया था।
    • जबकि, वित्त वर्ष 2020-21 में 2790 मिलियन डॉलर का निर्यात किया था।
  • वित्त वर्ष 2021-22 (अप्रैल-फरवरी) में भारत ने निम्नलिखित चार देशों में सर्वाधिक चीनी का निर्यात किया।

  • इसके साथ ही भारत ने सोमालिया, सऊदी अरब, मलेशिया, श्रीलंका, अफगानिस्तान, इराक, पाकिस्तान,नेपाल, चीन आदि देशों में भी चीनी का निर्यात्‍ा किया। 
  • भारतीय चीनी का आयात (Import)  करने वाले देशों में अमेरिका, सिंगापुर, ईरान, सीरिया, कनाडा, ऑस्ट्रेलिया, फ्रांस, रूस आदि देश शामिल हैं।
  • विदित हो कि देश में कुल चीनी उत्पादन में उत्तर प्रदेश, महाराष्ट्र तथा कर्नाटक की 80 फीसदी की हिस्सेदारी है।
    •  देश के अन्य प्रमुख गन्‍ना उत्पादक राज्यों में आंध्र प्रदेश, गुजरात, मध्य प्रदेश, ओडिशा, तमिलनाडु, बिहार, हरियाणा तथा पंजाब शामिल हैं।
  • उल्‍लेखनीय है, कि भारत ब्राजील के बाद विश्व का दूसरा सबसे बड़ा चीनी उत्पादक देश है।

संक्षेप विवरण

​​​​​​​

संकलन-आदित्य भारद्वाज
 

 


Comments
List view
Grid view

Current News List