Contact Us - 9792276999 | 9838932888
Timing : 12:00 Noon to 20:00 PM (Mon to Fri)
Email - ssgcpl@gmail.com
|
|

Post at: Apr 22 2022

इण्डिया टी.बी. रिपोर्ट‚ 2022

ट्‌यूबरक्यूलोसिस (क्षय रोग)

  • क्षय रोग एक गंभीर संक्रामक बीमारी है। यह मुख्यत: फेफड़ों को प्रभावित करती है।
  • यह बीमारी खांसी एवं छींक के माध्यम से एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में फैलती है।
  • यह बीमारी माइकोबैक्टीरियम ट्‌यूबरक्यूलोसिस (Mycobacterium Tuberculosis) नामक जीवाणु के जरिए फैलती है।

वर्तमान परिप्रेक्ष्य

  • 24 मार्च‚ 2022 को भारत के स्वास्थ्य मंत्रालय ने ’इण्डिया टी.बी. रिपोर्ट‚ 2022’ को जारी किया।
  • इस रिपोर्ट के अनुसार‚ वर्ष 2021 में टी.बी. के मरीजों में बढ़ोत्तरी दर्ज की गई है।
  • इस रिपोर्ट का शीर्षक है- ’’कमिंग टुगेदर टू एण्ड टी.बी. ऑलटुगेदर’’ (Comming Together to End TB Altogether) 

भारत में टीबी रोग का बोझ

  • वैश्विक टी.बी. रिपोर्ट के अनुसार‚ भारत में वर्ष 2020 में प्रति एक लाख आबादी पर औसतन 188 व्यक्ति टी.बी. के किसी न किसी रूप से ग्रसित थे।
  • रिपोर्ट के अनुसार‚ वर्ष 2021 में वर्ष 2020 की तुलना में 19 प्रतिशत अधिक मरीज पाए गए।
  • वर्ष 2020 में यह संख्या 16,28,161 थी‚ जो वर्ष 2021 में बढ़कर  19,33,381 हो गई। 
  • रिपोर्ट के अनुसार‚ वर्ष 2019 और वर्ष 2020 के बीच टी.बी. के सभी रूपों के कारण मृत्यु दर में 11 प्रतिशत की वृद्धि हुई है।
  • रिपोर्ट के अनुसार‚ वर्ष 2021 में क्षय रोग उन्मूलन के लिए राष्ट्रीय रणनीतिक योजना के दृष्टिकोण को कई राज्यों में विस्तारित किया गया।
  • 18 राज्यों ने वर्ष 2025 तक क्षय रोग को खत्म करने की प्रतिबद्धता व्यक्त की है।

टी.बी. के उन्मूलन हेतु रणनीतिक योजना

  • 8 मई‚ 2017 को टी.बी. के उन्मूलन के लिए राष्ट्रीय रणनीतिक योजना (2017-25) को अनुमोदित किया गया।
  • भारत का उद्देश्य वर्ष 2025 तक देश में टी.बी. का उन्मूलन करना है।
  • ध्यातव्य है‚ कि विश्व स्वास्थ्य संगठन वर्ष 2030 तक वैश्विक स्तर पर टी.बी. उन्मूलन का लक्ष्य रखता है।

क्षय रोग निदान सेवाएं एवं सक्रिय मामले

  • रिपोर्ट के अनुसार‚ वर्ष 2021 के अंत तक भारत में 80 ऐसी प्रयोगशालाएं संचालित होने योग्य हैं‚ जो ’लिक्विड कल्चर सिस्टम’ से संगत हैं।
  • जिनमें से 60 फर्स्ट-लाइन लिक्विड कल्चर ड्रग ससेप्टबिलिटी टेस्टिंग हेतु प्रमाणित है।
  • लाइन प्रोब एस्से (लाइन जांच-परख) के संदर्भ में 74 प्रयोगशालाएं प्रभावित हैं।

टीे.बी. एवं लैंगिक स्थिति

  • वर्ष 2021 में अधिसूचित कुल टी.बी. मामलों में से 60.7 प्रतिशत पुरुष‚ 39.1 प्रतिशत महिलाएं एवं 0.04 प्रतिशत ट्रांसजेण्डर हैं।

उपचार सेवाएं

  • रिपोर्ट यह दर्शाती है‚ कि हाल के वर्षों में देश ने टी.बी. के प्रबंधन में दूरगामी प्रगति की है।
  • डीएस-टीबी उपचार प्रदर्शन के संदर्भ में वर्ष 2021 में 21,35,830 रोगियों की पहचान की गई।
  • इसमें से 20,30,509 (95%) रोगियों को उपचार हेतु रखा गया।

टी.बी. स्कोर (T.B. Score)

  • राष्ट्रीय राज्य एवं जिला स्तर पर टी.बी. उन्मूलन कार्यक्रमों के आधार पर प्रदर्शन का आकलन किया जाता है। 
  • इस आकलन में विभिन्न संकेतकों का प्रयोग किया जाता है।
  • टी.बी. सूचकांक राज्य के प्रदर्शन का मापन करता है।
  • इसके अतिरिक्त यह इस बात की ओर इंगित करता है‚ कि कौन-सा राज्य किन चुनौतियों का सामना कर रहा है।

  • DSTB — Drug Sensitive Anti Tuberculosis
  • DRTB — Drug Resitant Anti Tuberculosis

पर्यवेक्षण एवं निगरानी

  • राज्यों/केंद्रशासित प्रदेशों के समक्ष आने वाली तकनीकी तथा प्रशासनिक चुनौतियों की पहचान करने हेतु 34 राज्यों/केंद्रशासित प्रदेशों में एक राष्ट्रव्यापी सहायक पर्यवेक्षण मिशन आयोजित किया गया।

राष्ट्रीय टी.बी. उन्मूलन कार्यक्रम हेतु वित्तीय समर्थन

  • वर्ष 2021-22 में कार्यक्रम के लिए बजट - 3409.94 करोड़ रुपये।
  • वर्ष 2021-22 में राज्यों को आवंटित वित्त - 480.35 करोड़ रुपये।

विश्व क्षय रोग दिवस‚ 2022

  • तिथि - 24 मार्च‚ 2022
  • थीम - इन्वेस्ट टू एण्ड टी.बी. सेव लाइव्स (Invest to End T.B. Save Lives)
  • टी.बी. की खोज - 1882 ई. में डॉ. रॉबर्ट कोच द्वारा

संकलन — आलोक त्रिपाठी

 


 


 


Comments
List view
Grid view

Current News List