Contact Us - 9792276999 | 9838932888
Timing : 12:00 Noon to 20:00 PM (Mon to Fri)
Email - ssgcpl@gmail.com
|
|

Post at: Apr 21 2022

राष्ट्रीय टी.बी. प्रसार सर्वेक्षण रिपोर्ट (National TB Prevalence Survey)

वर्तमान परिप्रेक्ष्य

  • 25 मार्च‚ 2022 को विश्व क्षय रोग दिवस के अवसर पर ’’राष्ट्रीय टी.बी. प्रसार सर्वेक्षण रिपोर्ट’’ जारी की गई।
  • विश्व क्षय रोग दिवस (24 मार्च‚) के अवसर पर ’’इण्डिया टी.बी. रिपोर्ट‚ 2022’’ भी जारी की गई।
    • इस रिपोर्ट का शीर्षक है— ’’कमिंग टुगेदर टू एण्ड टी.बी. अलटुगेदर’’ (टी.बी. को पूर्णतया समाप्त करने के लिए एक साथ आना)। राष्ट्रीय टी.बी. प्रसार सर्वेक्षण रिपोर्ट वर्ष 2019 से 2021 देश में टी.बी. के वास्तविक स्थिति को जानने के लिए किया गया।
  • यह सर्वेक्षण एक निश्चित समय में 20 राज्यों/राज्य समूहों में 15 वर्ष से अधिक आयु के लोगों में पल्मोनरी टी.बी. के मामलों की पुष्टि करता है।

राष्ट्रीय टी.बी. प्रसार सर्वेक्षण रिपोर्ट के मुख्य निष्कर्ष

  • इस सर्वेक्षण के अनुसार‚ सिंप्टमैटिक यानी टी.बी. के शुरुआती लक्षण वाली अधिकांश आबादी (64%) ने स्वास्थ्य सेवाओं की तलाश ही नहीं की।
  • जबकि 15 वर्ष से अधिक की आबादी में टी.बी. के प्रसार के मामले में शीर्ष पर दिल्ली तथा अंतिम स्थान पर केरल है।
  • भारत में सभी आयु के लोगों में टी.बी. के सभी रूपों का प्रसार वर्ष 2021 के लिए प्रत्येक एक लाख जनसंख्या पर 312 था।
  • देश में प्रति 1 लाख आबादी पर टी.बी. के सर्वाधिक मामले 747 दिल्ली में हैं‚ जबकि 137/लाख मामलों के साथ गुजरात का स्थान सबसे नीचे है।
  • विश्वभर में कुल टी.बी. मामलों में भारत का हिस्सा लगभग 26 प्रतिशत है। 

इण्डिया टी.बी. रिपोर्ट‚ 2022 के मुख्य निष्कर्ष

  • वर्ष 2021 में टी.बी. रोगियों की संख्या में पिछले वर्ष की तुलना में 19 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गई है।
  • क्षय रोग के उन्मूलन के लिए राष्ट्रीय रणनीतिक योजना (NSP, 2017-25) का विजन‚ राज्य और जिला स्तर तक पहुंच गया है।
  • कुल 18 राज्यों ने वर्ष 2025 तक क्षय रोग के उन्मूलन के लिए प्रतिबद्धता व्यक्त की है।
  • भारत में‚ चाइल्डहुड ट्‌यूबरकुलोसिस (बच्चों में टी.बी.) एक गंभीर समस्या बनी हुई है।
  • इसका वैश्विक स्तर पर ट्‌यूबरकुलोसिस के बोझ में लगभग 31 प्रतिशत का योगदान है।
  • भारत में वर्ष 2019 से वर्ष 2020 के बीच टी.बी. के सभी रूपों के कारण होने वाली मृत्यु दर में 11 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गई है।

अन्य महत्वपूर्ण तथ्य

टी.बी. को समाप्त करने के लिए भारत का विजन

  • इसके तहत‚ वर्ष 2025 तक भारत से टी.बी. को पूरी तरह से समाप्त करने का लक्ष्य रखा गया है।
  • यह विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) द्वारा निर्धारित वर्ष 2030 के वैश्विक लक्ष्य से पांच वर्ष पहले की प्रतिबद्धता है।
  • मार्च‚ 2018 में आयोजित Delhi End TB Summit के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा वर्ष 2025 तक देशभर में टी.बी. उन्मूलन का लक्ष्य रखा गया था।

  • 24 मार्च‚ 2022 को नई दिल्ली में "Step-up to End TB–World TB Day Summit" का आयोजन किया गया।

मुख्य अतिथि : उत्तर प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल

विश्व टी.बी. दिवस‚ 2022 का विषय
"Invest to End TB Save Lives"

  • यह विषय तपेदिक के खिलाफ लड़ाई में तेजी लाने और तपेदिक को समाप्त करने हेतु विश्वभर के नेताओं द्वारा की गई प्रतिबद्धताओं को पूरा करने के लिए संसाधनों के निवेश की आवश्यकता पर जोर देता है।
  • वर्ष 2021 में‚ बैसिल कैलमेट-गुएरिन (BCG) वैक्सीन के लिए शताब्दी समारोह मनाया गया था‚ जो वर्तमान में टी.बी. की रोकथाम हेतु उपलब्ध एकमात्र वैक्सीन है।
  • 24 मार्च‚ 1882 को डॉ. रॉबर्ट कोच ने तपेदिक पैदा करने वाले जीवाणु माइकोबैक्टीरियम ट्‌यूबरकुलोसिस की खोज की घोषणा की थी।
  • विश्व क्षय रोग दिवस के अवसर पर सरकार ने ’’डेयर टू इरेड टी.बी.’’ नामक एक कार्यक्रम प्रारंभ किया।
  • इसके तहत‚ भारतीय आंकड़ों की सहायता से और संपूर्ण जीनोम सीक्वेंसिंग के आधार पर टी.बी. की निगरानी के लिए एक ’’जीनोम सीक्वेंसिंग कंसोर्टियम’’ का गठन किया जाएगा।

संकलन — शिशिर अशोक सिंह


 


 


Comments
List view
Grid view

Current News List