Contact Us - 0532-246-5524,25 | 9335140296
Email - ssgcpl@gmail.com
|
|

Post at: Nov 29 2021

अंतरराष्ट्रीय पर्यटन मार्ट (आईटीएम)

 वर्तमान परिप्रेक्ष्य

  • 27 नवंबर से 29 नवंबर, 2021 तक पर्यटन मंत्रालय, भारत सरकार, नगालैण्ड के कोहिमा में वार्षिक कार्यक्रम, "अंतरराष्ट्रीय पर्यटन मार्ट" (आईटीएम) का आयोजन कर रहा है।
  • यह आयोजन सितंबर, 2021 के दौरान असम राज्य में आयोजित पूर्वोत्तर क्षेत्र के पर्यटन और संस्कृति मंत्रियों के सम्मेलन के क्रम में है, जो पूर्वोत्तर क्षेत्र में पर्यटन के लिए आगे की राह पर विचार-विमर्श करने और चर्चा करने का एक प्रयास था।
  • पूर्वोत्तर राज्यों में रोटेशन के आधार पर अंतरराष्ट्रीय पर्यटन मार्ट का आयोजन किया जाता है। 
  • नगालैण्ड पहली बार इस मार्ट की मेजबानी कर रहा है। 
  • इस मार्ट के पहले के संस्करण गुवाहाटी (असम), तवांग (अरुणाचल प्रदेश), शिलांग (मेघालय), गंगटोक (सिक्‍किम), अगरतला (त्रिपुरा) और इंफाल (मणिपुर) में आयोजित किए जा चुके हैं।

उद्देश्य

  • इसका उद्देश्य घरेलू और अंतरराष्ट्रीय बाजार में इस क्षेत्र की पर्यटन क्षमता को उजागर करना है।
  • मार्ट का यह संस्करण "घरेलू पर्यटन"पर ध्यान केंद्रित करेगा। 
  • सामान्य रूप से पूर्वोत्तर क्षेत्र में पर्यटन को बढ़ावा देने पर विचार-विमर्श के अलावा, सांस्कृतिक संबंधों को बढ़ावा देने के लिए यह मार्ट एक मंच भी प्रदान करेगा, जो देश के अन्य हिस्सों के साथ पूर्वोत्तर क्षेत्र के राज्यों को बेहतर संपर्क प्रदान करेगा।

कार्यक्रम की योजना

  • कार्यक्रम की योजना को खरीदारों, विक्रेताओं, मीडिया, सरकारी एजेंसियों और अन्य हितधारकों के बीच बातचीत को सुविधाजनक बनाने के लिए निर्धारित किया गया है। 
  • देश के विभिन्‍न क्षेत्रों के लगभग 50 खरीदार मार्ट में भाग लेंगे और पूर्वोत्तर क्षेत्र के 75 विक्रेताओं के साथ आमने-सामने बैठक करेंगे। 
  • यह क्षेत्र के पर्यटन उत्पाद आपूर्तिकर्ताओं को पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए घरेलू खरीदारों तक पहुंचने में सक्षम बनाएगा। 
  • घरेलू खरीदार पूर्वोत्तर क्षेत्र के विक्रेताओं के साथ व्यापार बैठकों में भी शामिल होंगे।
  • इनके अलावा, इस आयोजन में राज्य सरकारों द्वारा उनकी पर्यटन क्षमता पर प्रस्तुतियां और भाग लेने वाले संबंधित राज्यों के पर्यटन उत्पादों को प्रदर्शित करने के लिए पूर्वोत्तर क्षेत्र के राज्य पर्यटन विभागों द्वारा एक सजीव प्रदर्शनी भी शामिल है। 
  • पूर्वोत्तर क्षेत्र में पर्यटन और अद्वितीय पर्यटन उत्पादों के कई पहलुओं तथा उनकी क्षमता पर विभिन्‍न आकर्षक चर्चाएं भी इस आयोजन का एक हिस्सा हैं।
  • प्रतिभागियों के अनुभव को और समृद्ध करने के लिए, मंत्रालय की किसामा धरोहर गांव, किसामा समर संग्रहालय और मोरंग्स, खोनोमा गांव तथा कोहिमा द्वितीय विश्व युद्ध के कब्रिस्तान का दौरा कराने की भी योजना है। 
  • आने वाले प्रतिनिधिमण्डल को स्थानीय समुदाय, स्थानीय कला और संस्कृति तथा नगालैण्ड की समृद्ध विरासत से परिचित कराया जाएगा।

प्रतिभागी

  • तीन दिवसीय कार्यक्रम में सरकारी अधिकारियों, उद्योग जगत के हितधारकों और स्थानीय प्रतिभागियों सहित 300 से अधिक प्रतिनिधि भाग लेंगे। 
  • इस कार्यक्रम में उच्‍चायुक्त-ब्रुनेई दारुस्सलाम, उच्‍चायुक्त-मलेशिया, राजदूत-म्यांमार संघ गणराज्य एवं राजदूत, द सोशलिस्ट रिपब्लिक ऑफ वियतनाम, सहित अन्य गणमान्य व्यक्ति और राजनयिकों के भाग लेने की संभावना है। 
  • भाग लेने वाले मंत्रालयों/सरकारी निकायों के अन्य उच्‍च पदस्थ अधिकारी भी इस आयोजन में हिस्सा ले रहे हैं। प्रधानमंत्री के 'एक भारत श्रेष्ठ भारत' के दृष्टिकोण के अनुरूप, प्रतिनिधिमण्डल में देश भर के छात्र भी शामिल हैं, जो एक अध्ययन दौरे के हिस्से के रूप में, स्थानीय छात्रों के साथ बातचीत करेंगे और क्षेत्र की समृद्ध विरासत तथा संस्कृति में शामिल होंगे।

संकलन-मनीष प्रियदर्शी
 


Comments
List view
Grid view

Current News List