Contact Us - 0532-246-5524,25 | 9335140296
Email - ssgcpl@gmail.com
|
|

Post at: Oct 06 2021

डिजिटल क्‍वॉलिटी अाॅफ लाइफ इंडेक्‍स, 2021

वर्तमान परिप्रेक्ष्य

  • 13 सितंबर, 2021 को सूचकांक का तीसरा संस्करण जारी किया गया।
  • सूचकांक का प्रथम संस्करण वर्ष 2219 में जारी किया गया था।
  • इस सूचकांक को ब्रिटिश वर्जिन आइलैंड आधारित साइबर सुरक्षा कंपनी सुरफशार्क (Surfshark) द्वारा तैयार किया जाता है।

महत्‍वपूर्ण बिंदु

  • सूचकांक का वर्तमान संस्करण 2020 में वैश्विक कोविड-19 महामारी की शुरूआत के बाद से डिजिटल परिदृश्य में हुए बदलावों पर प्रकाश डालता है। 
  • वर्ष 2021 के सूचकांक में वर्ष 2020 सूचकांक की तुलना में 25 अतिरिक्त देशों को शामिल किया गया है।
  • अफ्रीका क्षेत्र में सूचकांक का व्यापक रूप से विस्तार हुआ है।
  • यह सूचकांक पांच मुख्य स्तभों पर आधारित जीवन समग्र डिजिटल गुणवत्ता की समझ को प्रस्तुत करता है

ये पांच स्तंभ है-

  1. इंटरनेट सामर्थ्य (Internet Affordability)
  2. इंटरनेट गुणवत्ता (Internet Quality)
  3. इलेक्‍ट्रॉनिक बुनियादी ढांचा (Electronic Infrastructure)
  4. इलेक्‍ट्रॉनिक सुरक्षा (Electronic Security)
  5. इलेक्‍ट्रॉनिक सरकार (Electronic Government)

उपर्युक्‍त पांच आधारों पर सूचकांक का स्कोर तय किया गया है।

  • सूचकांक में कुल 110 देशों को शामिल किया गया है, जो विश्व की लगभग 90 प्रतिशत जनसंख्या को समाहित करते हैं।
  •  सूचकांक निर्माण के उपर्युक्‍त पांच आधारों के समग्र अध्ययन में डेनमार्क (0.8313 स्कोर) शीर्ष पर है।
  • दूसरे एवं तीसरे स्थान पर क्रमश: दक्षिण कोरिया (एशिया में प्रथम) एवं .िंफनलैंड हैं।

भारत की स्थिति

  • भारत इस सूचकांक में 59वें स्थान पर है। वर्ष 2020 की तुलना में भारत की रैंकिंग में दो स्थानों की गिरावट दर्ज की गई है। 
  • 32 एशियाई देशों में भारत को 17वां स्थान प्राप्‍त हुआ है।
  • सूचकांक निर्माण के पांच आधारों पर भारत की स्थिति निम्नवत है- 
  • इंटरनेट सामर्थ्य में 47वें स्थान पर, इंटरनेट गुणवत्ता में 67वें, इलेक्‍ट्रॉनिक बुनियादी ढांचा में 91वें, इलेक्‍ट्रॉनिक सुरक्षा में 36वें तथा इलेक्‍ट्रॉनिक सरकार के आधार पर 33वां स्थान है।

    संकलन - मनीष प्रियदर्शी 


Comments
List view
Grid view

Current News List