Contact Us - 0532-246-5524,25 | 9335140296
Email - ssgcpl@gmail.com
|
|

Post at: Sep 28 2021

राज्‍य खाद्य सुरक्षा सूचकांक, 2020-21

वर्तमान परिप्रेक्ष्य

  • 20 सितंबर, 2021 को ‘राज्‍य खाद्य सुरक्षा सूचकांक (State Food Security Index : SFSI), 2020-21’  जारी किया गया। 
  • वर्ष 2020-21 का सूचकांक अपने क्रम का तृतीय संस्करण है।
  • 7 जून, 2020 को इस सूचकांक के द्वितीय संस्करण को जारी किया गया था।

पृष्ठभूमि

  • इस सूचकांक को ‘भारतीय खाद्य सुरक्षा और मानक प्राधिकरण’ (Food Safety and Standards Authority of India : FSSAI) द्वारा जारी किया जाता है।
  • SFSI के प्रथम संस्करण को वर्ष 2019 में विश्व खाद्य सुरक्षा दिवस (7 जून) के अवसर पर जारी किया गया था।
  • इस सूचकांक में खाद्य सुरक्षा के मानकों के आधार पर राज्‍यों के प्रदर्शन का मूल्‍यांकन किया गया है, जिसमें शामिल हैं-
  • मानव संसाधन और संस्थागत आंकड़े (Human Resources and Institutional Data)
  • अनुपालन (Compliance)
  • प्रशिक्षण और क्षमता निर्माण (Training and Capacity Building) 
  • खाद्य परीक्षण आधारभूत संरचना और निगरानी (Food testing - Infrastructure and Surveillance)
  • उपभोक्ता सशक्तीकरण (Consumer empow-ernment)
  • इस सूचकांक में राज्‍यों को तीन श्रेणियों में बांटा गया है-
  1. बड़े राज्‍य
  2. छोटे राज्‍य तथा
  3. केंद्रशासित प्रदेश

बड़े राज्‍यों का स्थान

  • 100 में कुल प्राप्‍तांकों के आधार पर शीर्ष तीन बड़े राज्‍य-

 

  • इस श्रेणी में कुल 35 अंकों के साथ बिहार को अंतिम (20वां) स्थान प्राप्‍त हुआ है।
  • उत्तर प्रदेश को इस सूचकांक में कुल 59 अंकों के साथ 5वां स्थान प्राप्‍त हुआ है।
  • मध्य प्रदेश (7वें), झारखंड (13वें), उत्तराखंड (14वें) एवं राजस्थान (18वें) स्थान पर है।

शीर्ष छोटे राज्‍यों का स्थान

  • 100 अंकों में कुल प्राप्‍तांकों के आधार पर

  • छोटे राज्‍यों की श्रेणी में कुल 25 अंकों के साथ मिजोरम अंतिम पायदान (8वें) पर है।

संघ राज्‍य क्षेत्रों में शीर्ष तीन

  • 100 अंकों में कुल प्राप्‍तांकों के आधार पर-

 

  • इस श्रेणी में कुल 18 अंकों के साथ लक्षद्वीप अंतिम स्थान (8वें) स्थान पर है।

महत्‍वपूर्ण बिंदु

  • वर्ष 2020-21 की रैंकिंग के आधार पर केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्‍याण मंत्रालय ने तीनों श्रेणियों के शीर्ष तीन-तीन राज्‍यों/केंद्रशासित प्रदेशों के उनके प्रभावशील प्रदर्शन हेतु सम्मानित किया।
  • इसी अवसर पर मंत्रालय ने संपूर्ण राष्ट्र में खाद्य सुरक्षा परिवेश को मजबूत करने के लिए 19 मोबाइल फूड टेस्टिंग वैन (फूड सेफ्‍टी ऑन व्हील्‍स) का उद््घाटन किया।
  • अब ऐसे मोबाइल टेस्टिंग वैन की कुल संख्या बढ़कर 109 हो गई है।

                संकलन - आदित्‍य भारद्वाज
 


Comments
List view
Grid view

Current News List